Hindi Shayari on Life in Hindi Font

life or zindagi shayari in hindi fonts

Zindagi Shayari, एक दिन यूँ ही…

एक दिन यूँ ही मायूस सी मैं सोच रही थी
मक़सद मेरे जीने का रहा कहाँ है अब
अन्दर से एक आवाज़ ने झंझोड़ सा दिया
ये ज़िन्दगी औरों की है तुम्हारी थी ही कब?


My favourite Life Shayari, ज़िन्दगी कहलाती है

ज़िन्दगी चलते-चलते थक के लड़खड़ाती है
कभी गिरती है कभी यूँ ही सम्भल जाती है
पाँव उठते हैं इसके मौत ही की तरफ़
फिर भी न जाने क्यों ये ज़िन्दगी कहलाती है।


अब आदमी की कोई…

अब आदमी की कोई पहचान नहीं है
सोया ज़मीर उसका ईमान नहीं है
क्यों हो रहा है ऐसा, है उसका भी जवाब
शायद इसीलिए की वो इन्सान नहीं है।

Read more